Breaking News

हत्या के आरोपियों को जियावन पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल

हत्या के आरोपियों को जियावन पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल

एक ओर जहां कोरोना महामारी को रोकने मे जियावन पुलिस जी-जान लगाए हुए है वही इस महामारी के युग मे जमीन जायदाद के हिस्साबाट को लेकर कलयुगी देवर-देवरानी भतीजा-भतीजी द्वारा हत्या कर शव को बंद कमरे मे फांसी के फंदे मे लटकाकर आत्महत्या की ढोंग रचकर पुलिस को सूचना देने वाले हत्यारों केा गिरफ्तार कर जेल के सलाखों मे पहुंचाया गया
थाना का नाम – थाना जियावन अप.क्र.269/21 धारा- 302,201 ताहि.
गिरफ्तार आरोपियो का नामः- 01.बिहारीलाल यादव पिता स्व.रामचंद्र यादव उम्र 3़6 वर्ष 02. प्रदीप कुमार यादव पिता स्व.जगजीवन यादव उम्र 21 वर्ष 03.श्रीमती लीलावती यादव पति जग्यसेन यादव उम्र 28 वर्ष 04.चंदवती उर्फ चंद्रकली यादव पति स्व. जगजीवन यादव उम्र 50 वर्ष सभी निवासी सजहर थाना जियावन जिला सिंगरौली
– घटना इस प्रकार है कि दिनांक 02.05.2120 को सूचनाकर्ता बिहारीलाल यादव पिता स्व.रामचंद्र यादव उम्र 3़6 वर्ष निवासी सजहर थाना जियावन जिला सिंगरौली (म.प्र.) का सूचना दिया कि इसकी बडी भाभी तारादेवी यादव पति स्व.रामाधार यादव उम्र 57 वर्ष की दिनांक 30.04.21 के सुबह से घर से गायब हो गई थी आसपास पता करने कोई जानकारी नही मिली जो दिनांक 01.05.21 के रात्रि 08 बजे घर मे एक बंद कमरे मे फांसी के रस्सी मे लटकी मिली सूचना पर मर्ग क्र.26/21 धारा 174 जा.फौ.का पंजीबध्द कर जांच मे लिया गया दौरान जांच पंचनामा कार्यवाही कर पीएम कराया गया एवं घटना से भौतिक साक्ष्य संकलित किया गया तथा अस्पताल देवसर से पीएम रिपोर्ट प्राप्त हुई पीएम कर्ता डाॅक्टर द्वारा मृतिका की मारपीट कर हत्या कर करना पाये जाने पर अज्ञात आरोपी के विरूध्द अप.क्र.269/21 धारा 302,201 ताहि. पंजीबध्द कर वरिष्ठ अधिकारियो को सूचित कर विवेचना मे लिया गया पुलिस अधीक्षक महोदय श्री बीरेन्द्र कुमार सिंह (भा.पु.से.) व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अनिल सोनकर एवं एसडीओपी देवसर श्री आसुतोष द्विवेदी को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक महोदय ने निरीक्षक नेहरू सिंह खण्डाते के नेतृत्व मे टीम गठित कर तत्काल घटना स्थल पर मौजूद भौतिक साक्ष्य संकलन अज्ञात आरोपी को पतारसी कर अतिशीघ्र गिरफ्तार किए जाने की कडे निर्देश दिए गए। दौरान विवेचना पाया गया कि मृतिका के सास पन्नी देवी ने अपने हिस्से के जमीन को वसीयत मृतिका के नाम पर कर दी थी इसी बात को लेकर मझली देवरानी चदंवती उर्फ चंद्रकली,उसका लडका प्रदीप लडकी लीलावती तथा छोटा देवर बिहारीलाल विरोध कर झगडने लगे और जायदाद मे औैर हिस्सा न मिलने पर मौका पाकर दिनांक 29.04.21 के दरमियानी रात सभी मिलकर मारपीट कर हत्या कर बचने के लिए शव को एक कमरा मे रस्सी से लटकाकर ताला बंद करके मृतिका को घर से गायब होने ढोंग रचकर आसपास तलास करके फांसी लगाने के सूचना पुलिस दिया दिनांक 11.05.21 को संदेहियो से घटना मे प्रयुक्त आला जरब जप्त कर आरोपीगणों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत मे भेजा गया। इस प्रकार पुलिस अधीक्षक श्री वीरेन्द्र कुमार सिंह (भा.पु.से.) के निर्देषन में गठित थाना जियावन पुलिस टीम द्वारा एक ओर जहां कोरोना महामारी को रोकने मे जियावन पुलिस जी-जान लगाए हुए है वही इस महामारी के युग मे जमीन जायदाद के हिस्साबाट को लेकर कलयुगी देवर-देवरानी भतीजा-भतीजीद्वारा हत्या कर शव को बंद कमरे मे फांसी के फंदे मे लटकाकर आत्महत्या की ढोंग रचकर पुलिस को सूचना देने वाले हत्यारों केा गिरफ्तार कर जेल के सलाखों मे पहुंचाकर अत्यंत घृणित अंधी हत्या का पर्दाफांश किया गया। पुलिस के इस कार्य से इस प्रकार के असमाजिक तत्वांे मे हडकंप मचा है ,वही दूसरी ओर क्षेत्रवासियो एवं आम जनमानस द्वारा मुंक्त कंठ से पुलिस की सराहना किया गया है।
विशेष योगदान-निरीक्षक नेहरू सिंह खण्डाते, उनि प्रदीप सिंह, उनि आर.डी.बंसल,उनि केपी रावत,सउनि रामनरेश पटेल,सउनि बाबूलाल सेन,सउनि सुरेश वर्मा,प्र.आर.299 केशरी पाण्डेय,प्र.आरक्षक 247 अनिल वर्मा,म.आरक्षक 122 विमला सिंह,महिला आरक्षक 117 किरण सिंह,आरक्षक 729 प्रभात दुबे,आरक्षक 714 अभिषेक त्रिपाठी,आरक्षक 711 शिवभान सिंह,आर.708 रिंकू,आर.39 हरिभजन सिंह,आर.716 अमित एंव सायबर सेल टीम से आरक्षक 611 सोबल वर्मा ,आरक्षक 23 दीपक परस्ते आदि के महत्वपूर्ण योगदान रहा ।

Check Also

सिंगरौली देवसर जियावन पुलिस की बड़ी कार्यवाही अनावश्यक घूमने वाले पर की गई चलानी कार्यवाही

🔊 Listen to this Buero Report सिंगरौली देवसर जियावन पुलिस की बड़ी कार्यवाही अनावश्यक घूमने …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें