Breaking News

इंदौर में बुजुर्गों पर अमानवीय घटना से मध्यप्रदेश हुआ शर्मशार, बुजुर्गों से घुटने टेक कर क्षमा मांगें शिवराज – अजय सिंह (पूर्व नेता प्रतिपक्ष)

 

Desk News

सीधी। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि गांधी के देश भारत के इंदौर में अशक्त बुजुर्गों के साथ जो अमानवीय कार्य और हिंसा हुई है, उससे केवल मध्यप्रदेश ही नहीं बल्कि पूरा देश शर्मसार हुआ है।

अजय सिंह ने कहा कि अहिंसा के पुजारी महामानव गांधीजी की पुण्यतिथि के ठीक एक दिन पहले शिवराज सरकार की नाक के नीचे इंदौर नगर निगम कचरे की गाड़ी में पशुओं की तरह बुजुर्गों को भरकर लावारिस छोड़ने जा रही थी। इस शर्मनाक घटना ने हर इंसान का दिल झकझोर दिया है। यह घटना सारे वरिष्ठजनों का अपमान है।

जनता के सामने घुटने टेक कर अभिवादन की नौटंकी करने वाले शिवराज सिंह में यदि जरा सी भी लोक लाज और दयाभाव बचा है, तो उन्हें उसी तरह घुटने टेक कर सार्वजनिक रूप से देश की जनता से क्षमा मांगना चाहिए। यह घटना भाजपा की हिटलरशाही का नमूना है।

अजय सिंह ने कहा है कि वह तो अच्छा हुआ कि बुजुर्गों को लावारिस हालत में बेशर्मों की तरह छोड़ कर जाते हुये नगर निगम वालों की करतूत को लोहार पीपल्या गाँव के किसानों ने देख लिया, वरना लावारिस बुजुर्गों का क्या हाल होता, उसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है।

अब सरकार लीपापोती करने में लगी है। मस्टरकर्मियों को बर्खास्त करने से कुछ नहीं होगा। बर्खास्त तो उन कलेक्टर और नगर निगम कमिश्नर को किया जाना चाहिए जिनकी दंभ भरी और भ्रष्टाचारी हरकतों के कारण नीचे के कर्मचारियों में अमानवीय मानसिकता विकसित हो रही है।

इंदौर की घटना तो केवल एक उदाहरण है, पूरे प्रदेश में यही हाल है। अफसरों की इसी मानसिकता के चलते विगत दिवस देवास जिले में शिवराज सिंह की सभा में एक प्रताड़ित किसान अनूप सिंह हाड़ा ने मुख्यमंत्री के सामने मिट्टी का तेल डालकर आत्मह्त्या करने की कोशिश की थी। यह घटना सरकार की विकसित होती अमानवीय मानसिकता का प्रत्यक्ष प्रमाण है।

Check Also

लोक सेवा केंद्र चुरहट में कोविड-19 के नियमों का पालन न किए जाने पर नहीं किए जाएंगे आवेदकों के कोई भी कार्य, लोक सेवा केंद्र प्रबंधक ने दी जानकारी

🔊 Listen to this Buero Report Subhash Pandey “Guru Bhai” चुरहट। लोक सेवा केंद्र चुरहट …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें