Breaking News

समय-सीमा बैठक संपन्न समाधान ऑनलाईन की एक दिसंबर को होगी समीक्षा 30 नवंबर के पूर्व सभी शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निराकरण सुनिश्चित करायें – कलेक्टर

समय-सीमा बैठक संपन्न
समाधान ऑनलाईन की एक दिसंबर को होगी समीक्षा
30 नवंबर के पूर्व सभी शिकायतों का
गुणवत्तापूर्ण निराकरण सुनिश्चित करायें – कलेक्टर
श्री चौधरी
सीधी 23 नवम्बर 2020
सीएम हेल्पलाईन में दर्ज शिकायतों के निराकरण की समीक्षा
करते हुए कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने कहा कि आगामी एक दिसंबर
को समाधान ऑनलाईन कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में
मुख्यमंत्री महोदय द्वारा शिकायतों के निराकरण की समीक्षा की जाएगी।
कलेक्टर श्री चौधरी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 30
नवंबर तक अधिक से अधिक शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निराकरण किया
जाना सुनिश्चित करें।
कलेक्टर श्री चौधरी ने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की
समीक्षा करते हुए निर्देशित किया है कि खाद्यान्न संबंधी सभी शिकायतों
का तीन दिवस के अंदर निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने सभी
उपखण्ड अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अपने क्षेत्रान्तर्गत संचालित
सभी शासकीय उचित मूल्य दुकानों का नियमित भ्रमण करें तथा
संबंधित शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण करायें। श्री चौधरी ने
निर्देशित किया है कि पात्रता पर्ची धारी हितग्राहियों को समय से पूरा
खाद्यान्न मिलना सुनिश्चित किया जाए तथा सभी पात्र हितग्राहियों का पात्रता

पर्ची जारी करना सुनिश्चित करें, एक भी पात्र हितग्राही योजना के लाभ से
वंचित नहीं रहे।
स्वास्थ्य विभाग के शिकायतों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर
द्वारा प्रसूति सहायता संबंधित शिकायतों का निराकरण तीन दिवस के अंदर किये
जाने हेतु निर्देशित किया गया है। साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि प्रसूति
सहायता से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज नहीं होनी चाहिए।
शिकायत दर्ज होने पर संबंधित अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक
कार्यवाही की जायेगी।
कलेक्टर श्री चौधरी ने सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद
पंचायत को निर्देशित किया है कि मनरेगा में मजदूरों की मजदूरी
भुगतान संबंधी शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण करायें। इसके
साथ ही कर्मकार कार्ड से संबंधित सभी भुगतान तत्काल करवा कर
शिकायतों को संतुष्टिपूर्वक निराकरण दर्ज कराएं। जो भुगतान नहीं
होने की स्थिति में हो उसमें स्पष्ट जवाब प्रस्तुत करें ।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की समीक्षा करते हुए कलेक्टर
श्री चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ
प्रत्येक पात्र हितग्राही को मिले इसके लिए अधिक से अधिक प्रयास किया जाये।
जिससे कोई भी पात्र हितग्राही लाभ से वंचित न रहे। इसके साथ ही
कलेक्टर द्वारा निर्देशित किया गया है कि गौशालाओं के चारागाह में
जो भी अतिक्रमण संबंधित शिकायत है उन्हें एसडीएम और तहसीलदार
मिलकर हटाना सुनिश्चित करें। गौशालाओं के सुचारू संचालन, जिले के
शासकीय सेवकों के पेंशन से जुड़े प्रकरणों के निराकरण तथा ऊर्जा
विभाग को सभी खराब ट्रांसफार्मर को बदलने हेतु निर्देशित किया
है।
धान उपार्जन में अनियमितता पर की जायेगी वैधानिक कार्यवाही
कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा खरीफ उपार्जन की समीक्षा की गयी। उपार्जन के
दौरान गड़बड़ियों को रोकने के लिए कलेक्टर द्वारा समस्त उपखण्ड
अधिकारियों को धान उपार्जन की केन्द्रवार प्रतिदिन समीक्षा करने के
निर्देश दिए गए हैं। उन्होने कहा कि उपार्जन की गतिविधियां सुचारू रूप
से संचालित हो, इसलिए प्रत्येक उपार्जन केन्द्र की नायब तहसीलदार, तहसीलदार
एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों द्वारा नियमित समीक्षा की जाए। कलेक्टर
श्री चौधरी ने सीमावर्ती क्षेत्रों में कड़ी चौकसी रखने के निर्देश
दिए हैं। उन्होने बाहरी राज्यों से अवैधानिक तरीके से आने वाली
धान पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होने कहा कि
किसी भी कीमत में दूरे राज्यों से आने वाली धान या गत वर्षों की
धान की खरीदी नहीं की जाए। उन्होने लोगों से भी अपील की है
कि धान खरीदी में नियमितता की जानकारी संबंधित उपखण्ड अधिकारी को
उपलब्ध करायें। कलेक्टर श्री चौधरी ने स्पष्ट किया है कि धान उपार्जन
में अनियमितता पाए जाने पर सभी संबंधितों के विरूद्ध कड़ी वैधानिक
कार्यवाही की जाएगी।

Check Also

*सीधी पुलिस द्वारा सघन वाहन चेकिंग अभियान में दो दिन में 396 वाहनों के हुए चालान। वसूला 2 लाख रू समन शुल्क।*

🔊 Listen to this Buero Report *सीधी पुलिस द्वारा सघन वाहन चेकिंग अभियान में दो …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें