Breaking News

सोनांचल महोत्सव में पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर और राज्यमंत्री  रामखेलावन पटेल हुए सम्मिलित ——

सोनांचल महोत्सव में पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर और राज्यमंत्री  रामखेलावन पटेल हुए सम्मिलित
——
संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन हम सबकी जिम्मेदारी – पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर
——
सीधी के पर्यटन क्षेत्र में विकास के होंगे प्रयास, बघेली बोली पीठ की होगी स्थापना
——

प्रदेश की मंत्री पर्यटन, संस्कृति एवंअध्यात्म विभाग सुश्री उषा ठाकुर के मुख्य आतिथ्य में शनिवार को स्थानीय पूजा पार्क में सोनांचल महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण (स्वतंत्र प्रभार), विमुक्त घुमक्कड़ जनजाति कल्याण (स्वतंत्र प्रभार), पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल द्वारा की गई। कार्यक्रम में स्थानीय लोक कलाकारों द्वारा लोक संस्कृतियों की मनमोहक प्रस्तुति दी गयी। रात्रि में देश के जानेमाने कवियों की उपस्थिति में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर संबोधित करते हुए पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कहा कि अपनी गौरवशाली संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। अपनी संस्कृति के विभिन्न रंगों, परंपराओं को अगली पीढ़ी तक हस्तांतरित करने में हम सबका योगदान है। भारतीय संस्कृति विश्व की सभी चुनौतियों से लड़ने में सक्षम हैं। पर्यटन मंत्री ने कहा कि सोनांचल महोत्सव जैसे कार्यक्रमों के आयोजन से समाज में एक सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। इस तरह के आयोजनों को संस्कृति विभाग द्वारा निरंतर प्रोत्साहन मिलता रहेगा। उन्होंने कहा कि सीधी में पर्यटन के विकास के लिए प्रयास किए जाएंगे तथा विभाग द्वारा आवश्यक सहयोग प्रदान किया जाएगा। उन्होंने सभी गणमान्य लोगों से सीधी में पर्यटन के विस्तार के लिए सुझाव मांगें हैं। इसके साथ ही पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर द्वारा बघेली बोली के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए पीठ के स्थापना की घोषणा की गई है।

कोविड-19 के संक्रमण से रोकथाम के लिए अपनाएं वैदिक जीवन पद्धति
——
पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर ने कोविड-19 के पुनः बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त करते हुए लोगों से सावधानी रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वैदिक जीवन पद्धति कोरोना सहित विश्व की सभी समस्याओं से चुनौती लेने में सक्षम है। कालान्तर में हमारी जीवन शैली में जो परिवर्तन हुए हैं, वही हमारी समस्याओं का मूल कारण है। इन समस्याओं के निवारण के लिए हमें अपने वैदिक जीवन पद्धति को अपनाना होगा। पर्यटन मंत्री ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए आवश्यक सावधानी रखें। सार्वजनिक स्थानों में दो गज की दूरी का ध्यान रखें, बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें तथा नियमित अंतराल में अपने हांथों को साबुन-पानी से अच्छी तरह स्वच्छ रखें। उन्होंने रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अपने दिनचर्या में काढ़ा को अनिवार्य रूप से सम्मिलित करने के लिए कहा है।

कार्यक्रम में सांसद सीधी श्रीमती रीती पाठक, विधायक धौहनी श्री कुंवर सिंह टेकाम, विधायक चुरहट श्री शरदेंदु तिवारी, कार्यक्रम के आयोजक श्री इंद्र शरण सिंह चौहान, गणमान्य नागरिक डॉ. राजेश मिश्रा, श्री सुभाष सिंह, सुश्री प्रज्ञा त्रिपाठी सहित बड़ी संख्या में लोककला प्रेमी उपस्थित रहे।

Check Also

निःशुल्क कोविड टीका लगाने के लिए 1 मार्च से शुरू अभियान में अधिक से अधिक वृद्धजन टीकाकरण का लाभ लें : सी एम एच ओ डॉ. मिश्रा

🔊 Listen to this Buero Report निःशुल्क कोविड टीका लगाने के लिए 1 मार्च से …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें