Breaking News

समय-सीमा बैठक संपन्न धान उपार्जन की नियमित समीक्षा के कलेक्टर ने दिए निर्देश धान उपार्जन में अनियमितता पर की जायेगी वैधानिक कार्यवाही

समय-सीमा बैठक संपन्न
धान उपार्जन की नियमित समीक्षा के कलेक्टर ने दिए
निर्देश
धान उपार्जन में अनियमितता पर की जायेगी वैधानिक
कार्यवाही
सीधी 16 नवम्बर 2020
समय-सीमा पत्रों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर रवीन्द्र कुमार
चौधरी द्वारा खरीफ उपार्जन की तैयारियों की समीक्षा की गयी। उपार्जन
के दौरान गडबड़ियो को रोकने के लिए कलेक्टर ने समस्त उपखण्ड
अधिकारियों को धान उपार्जन की केन्द्रवार प्रतिदिन समीक्षा करने के
निर्देश दिए गए हैं। उन्होने कहा कि उपार्जन की गतिविधियां सुचारू रूप
से संचालित हो, इसलिए प्रत्येक उपार्जन केन्द्र की नायब तहसीलदार,
तहसीलदार एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों द्वारा नियमित समीक्षा की जाए।
कलेक्टर श्री चौधरी ने सभी उपार्जन केन्द्रों में
आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होने
निर्देशित किया कि सभी उपार्जन केन्द्रों में पर्याप्त संख्या में
वारदानों, सिलाई मशीन, इलेक्ट्रॉनिक तौलकांटे तथा श्रमिकों
की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इनकी नियमित खपत के आधार पर ही नियमित
आपूर्ति सुनिश्चित की जाए जिससे खरीदी व्यवधान रहित सम्पन्न हो सके।
उन्होने समस्त तहसीलदारों एवं उपखण्ड अधिकारियों को निर्देशित

किया है कि पंजीयन के दौरान किए गए रकबा सत्यापन की कार्यवाही निर्धारित
समय-सीमा में पूर्ण करायी जाये।
कलेक्टर श्री चौधरी ने सीमावर्ती क्षेत्रों में कड़ी
चौकसी रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होने कहा कि बाहरी राज्यों से
अवैधानिक तरीके से आने वाली धान पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश
दिए हैं। उन्होने कहा कि किसी भी कीमत में दूरे राज्यों से आने
वाली धान या गत वर्षों की धान की खरीदी नहीं की जाए। उन्होने
लोगों से भी अपील की है कि धान खरीदी में नियमितता की जानकारी
संबंधित उपखण्ड अधिकारी को उपलब्ध करायें। कलेक्टर श्री चौधरी ने
स्पष्ट किया है किधान उपार्जन में अनियमितता पाए जाने पर सभी संबंधितों
के विरूद्ध कड़ी वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।
सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का करें संतुष्टिपूर्वक निराकरण
सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री चौधरी ने शिकायतों
के समय-सीमा में संतुष्टिपूर्वक निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने
माह अक्टूबर के लंबित शिकायतों तथा 100 दिवस से अधिक लंबित
शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर 20 नवम्बर तक निराकृत करने के
निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी एल1 एवं एल2 अधिकारी
हितग्राहियों से स्वयं संवाद स्थापित करें तथा उन्हें संतुष्ट करते हुए
शिकायतों का निराकरण करें। कलेक्टर श्री चौधरी ने हितग्राही मूलक
शिकायतों को पूरी संवेदनशीलता के साथ निराकृत करने के लिए कहा
है।
इसके साथ ही कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा गौशालाओं के
सुचारू संचालन जिले के शासकीय सेवकों के पेंशन से जुड़े प्रकरणों के
निराकरण तथा ऊर्जा विभाग को सभी खराब ट्रांसफार्मर को बदलने
हेतु निर्देशित किया है।
रोडमैप 2023 के तहत की जायेगी कार्यवाही
अपर कलेक्टर हर्षल पंचोली द्वारा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा
मध्यप्रदेश के लिए जारी रोडमैप 2023 के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी
प्रदाय की गयी। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा वीडियों
कांफ्रेंसंग के माध्यम से आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए की जाने

वाली कार्यवाहियों के विषय में बताया गया है। सभी विभागों द्वारा
विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए जा रहें हैं। उन्होने सभी अधिकारियों
को उन निर्देशों के अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए
गए हैं। अपर कलेक्टर द्वारा समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया है
कि आगामी समय में राजस्व लोक अदालतों का आयोजन किया जायेगा। अधिक
से अधिक प्रकरणों के निराकरण के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं किया जाना
सुनिश्चित करें।
बैठक में समस्त उपखण्ड अधिकारियों सहित जिला स्तरीय अधिकारी
उपस्थित रहें।

Check Also

सिंगरौली देवसर जियावन पुलिस की बड़ी कार्यवाही अनावश्यक घूमने वाले पर की गई चलानी कार्यवाही

🔊 Listen to this Buero Report सिंगरौली देवसर जियावन पुलिस की बड़ी कार्यवाही अनावश्यक घूमने …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें