Breaking News

कोविड-19 के लक्षण होने पर फीवर क्लीनिक में कराएं जांच घर में रहने वाले कोविड रोगियों की वीडियो कालिंग से होगी निगरानी -कलेक्टर 

कोविड-19 के लक्षण होने पर फीवर क्लीनिक में कराएं
जांच
घर में रहने वाले कोविड रोगियों की वीडियो कालिंग
से होगी निगरानी -कलेक्टर
सीधी 08 सितम्बर 2020
कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी ने बताया कि कोरोना संक्रमित
रोगियों को जिन्हें या तो कोई लक्षण नहीं है या कम लक्षण है
साथ ही उनके घर में पृथक शौचालय है व स्वतः पल्स आक्सीमीटर व
थर्मामीटर क्रय कर सकतें हैं, उन्हें चिकित्सकीय परामर्श उपरांत घर में
रहने की अनुमति होगी। उक्त रोगियों की प्रतिदिन वीडियो कॉलिंग से
स्वास्थ्य की निगरानी रखी जायेगी।
कलेक्टर श्री चौधरी ने बताया कि जिला स्तर से बनायी गयी जिला
कोरोना कमाण्ड एवं कंट्रोल केन्द्र की स्थापना जिला अस्पताल केन्द्र
में की गयी है। केन्द्र में चिकित्सकों की टीम 24 घंटे उपलब्ध
रहेगी जो दिन में 2 बार रोगियों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी
लेगी। यदि किसी को तेज बुखार, सांस लेने में तकलीफ या सीने में
जकड़न जैसी तकलीफ होने पर उन्हें एम्बूलंस द्वारा आइसोलेशन वार्ड
में इलाज हेतु लाया जावेगा। कलेक्टर श्री चौधरी ने होम आइसोलेशन
किए गए सभी मरीजों से स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी सभी निर्देशों का
कड़ाई से पालन करने तथा स्वास्थ्य के विषय में सही जानकारी देने के
लिए कहा है।

कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा सभी से अपील की गई है कि यदि किसी
को सर्दी, खांसी एवं बुखार संबंधित परेशानी महसूस होती है तो वह
तत्काल फीवर क्लीनिक पर स्वास्थ्य परीक्षण कराने के लिए अवश्य आएं। कलेक्टर
श्री चौधरी ने कहा कि कोरोना के संक्रमण में निरंतर वृद्धि हो रही है,
अतः अब विशेष सावधानी और सतर्कता रखने की आवश्यकता है। यह अत्यंत
महत्वपूर्ण है कि समुदाय द्वारा कोरोना जांच के संबंध में सामाजिक
दायित्वों का पालन किया जाए तथा यदि किसी कोरोना से पुष्ट व्यक्ति के
संपर्क में आने की जानकारी किसी भी नागरिक को होती है तो यह
नागरिक का दायित्व है कि वह स्वयं निकटस्थ फीवर क्लीनिक में कोरोना
पुष्ट व्यक्ति के संपर्क दिनांक से 5 से 10 दिन के अंदर करोना की जांच
कराएं। उनके द्वारा प्रथम संपर्क की परिभाषा भी बताते हुए कहा गया कि
इसमें कोरोना पॉजिटिव केस के घर के सदस्य, कोविड केस के सीधे
शारीरिक संपर्क अथवा संक्रमित स्राव के सीधे संपर्क में बगैर व्यक्तिगत
सुरक्षा साधनों के आया व्यक्ति कोविड केस के संपर्क में बंद वातावरण
में 1 मीटर से कम दूरी में आमने सामने आया व्यक्ति शामिल किए गए हैं।
कोविड-19 महामारी को देखते हुए जिले में 11 फीवर
क्लीनिक स्थापित किए गए हैं। इसमें जिला चिकित्सालय जिला सीधी, सामुदायिक
स्वास्थ्य केंद्र रामपुर नैकिन, सेमरिया, सिहावल, मझौली, कुसमी एवं चुरहट
तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमिलिया, बरिगवां , बिठौली एवं अमरपुर
हैं। इन केंद्रों पर सर्दी, खांसी एवं बुखार के मरीजों का विशेष रूप
से परीक्षण, दवाई का वितरण एवं कोरोना के जाच के लिए सैंपल लिया जा रहा
है। केंद्रों के लिए डॉक्टर पैरामेडिकल स्टाफ एवं दवा वितरण आदि की
व्यवस्था अलग से की गई है। यह केंद्र सामान्य ओ.पी.डी. समय सुबह 9 से
दोपहर 4 बजे तक संचालित हो रहे हैं। सभी 11 फीवर क्लीनिकों में
रैपिड एंटीजन टेस्ट करने के लिए किट उपलब्ध कराई गई है। इस किट के
माध्यम से 15 मिनट के अंदर तत्काल रिपोर्ट प्राप्त हो जाती है।

Check Also

—–कोरोना अपडेट—-  जिले में 66 मिले नए कोरोना संक्रमित

🔊 Listen to this Buero Report ——कोरोना अपडेट—- जिले में 66 मिले नए कोरोना संक्रमित …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें