Breaking News

समय-सीमा बैठक सम्पन्न सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों का समय-सीमा में गुणवत्तापूर्ण निराकरण दर्ज करायें-अपर कलेक्टर

समय-सीमा बैठक सम्पन्न
सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों का समय-सीमा में
गुणवत्तापूर्ण निराकरण दर्ज करायें-अपर कलेक्टर
सीधी 07 सितम्बर 2020
अपर कलेक्टर हर्षल पंचोली ने सीएम हेल्पलाइन में दर्ज
शिकायतों के निराकरण की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया है कि अभियान
चलाकर 15 सितम्बर के पूर्व शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निराकरण किया
जाना सुनिश्चित करें। उन्होने निर्देशित किया है कि प्रत्येक एल-1 एवं
एल-2 अधिकारी शिकायतों का स्वयं परीक्षण करेंगे तथा यथा संभव
उनका संतुष्टिकारक निराकरण करेंगें।
अपर कलेक्टर श्री पंचोली ने निर्देशित किया है कि कोई
भी शिकायत बिना गुणवत्तापूर्ण निराकरण दर्ज हुए उच्च स्तर पर नहीं
पहुंचनी चाहिए। इसके साथ ही शिकायतों को फोर्सक्लोज नहीं करने
की प्रवृत्ति को अपनाते हुए उनका शिकायतकर्ता से चर्चा कर संतुष्टिपूर्वक
ही निराकरण दर्ज करायें। उन्होने सभी विभाग प्रमुखों को सीएम
हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों की स्वतः समीक्षा करने के निर्देश दिए
हैं इससे मैदानी स्तर पर योजनाओं के क्रियान्वयन में कमियों का पता
चलता है। उन्होने हितग्राही मूलक योजनाओं से संबंधित शिकायतों
को तथा 100 दिवस से अधिक लंबित शिकायतों को प्राथमिकता के आधार
पर निराकरण करने के निर्देश दिए हैं।
अपर कलेक्टर श्री पंचोली ने नवीन पात्रता पर्ची जारी करने
अभियान की विस्तृत समीक्षा की। उन्होने संबंधित अधिकारियों को
निर्देशित किया है कि उक्त के संबंध में ग्रामवार सभी जानकारी

उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करें। सभी हितग्राहियों के आधार सीडिंग
की कार्यवाही शत प्रतिशत पूर्ण करायें। ऐसे हितग्राही जिनके आधार नहीं
बने हैं उनके आधार बनाने की कार्यवाही शिविरों के माध्यम से की
जाए। इसके साथ ही अपात्र हितग्राहियों के नाम पोर्टल से विलोपित करने
की कार्यवाही की जाए। वनाधिकार के पट्टों की समीक्षा करते हुए
उन्होने आगामी दो दिवस में अमान्य किए गए दावों के वास्तविक
कारणों को पोर्टल में दर्ज करने की कार्यवाही पूर्ण करने के
निर्देश दिए हैं।
खरीफ फसल की गिरदावरी संबंधित दावा -आपत्ति की अंतिम
तिथि 10 सितंबर
इसके साथ ही अपर कलेक्टर श्री पंचोली ने धान उपार्जन के पंजीयन हेतु
सभी कार्य वाहियां निर्धारित समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए
हैं। पटवारियों द्वारा अभियान चलाकर सभी ग्रामों में खेतों में
बोई गयी खरीफ फसल की प्रविष्टियां खसरे में दर्ज की गयी है। किसान
स्वयं एम.पी. किसान एप या भू-अभिलेख की वेबसाइट के फ्री सर्विस में
जाकर खसरे की प्रविष्टि देखकर अपनी भूमि में बोई गयी खरीफ फसल की
जानकारी ले सकता है। इसे मोबाइल या कम्प्यूटर पर देखा जा सकता है। यदि
गिरदावरी प्रविष्टि में कोई त्रुटि है तो इस संबंध मे किसान तहसीलदार
कार्यालय, पटवारी या एम.पी. किसान एप द्वारा दिनांक 10.09.2020 के पहले
दावा/आपत्ति कर सकते है। जांच उपरान्त यह डाटा तहसीलदार द्वारा सुधारा
जा सकेगा।
अपर कलेक्टर ने उक्त के विषय में किसानों को जागरूक करने
के निर्देश दिए हैं।

Check Also

*सीधी पुलिस द्वारा सघन वाहन चेकिंग अभियान में दो दिन में 396 वाहनों के हुए चालान। वसूला 2 लाख रू समन शुल्क।*

🔊 Listen to this Buero Report *सीधी पुलिस द्वारा सघन वाहन चेकिंग अभियान में दो …

कृपया एक बार शेयर जरूर करें